नशाखुरानी गिरोह का आतंक कम नहीं हो रहा है। रेलवे की लाख चौकसी के बाद भी यात्री गिरोह के शिकार हो रहे हैं।

छपरा । नशाखुरानी गिरोह का आतंक कम नहीं हो रहा है। रेलवे की लाख चौकसी के बाद भी यात्री गिरोह के शिकार हो रहे हैं। ऐसे ही एक यात्री दिल्ली से आ रहा था. उसे यूपी के बस्ती जाना था, लेकिन नशाखुरानी गिरोह ने उसे अपने शिकंजे में ले लिया। अचेतावस्था में यात्री बिहार का छपरा स्टेशन आ गया। शुक्रवार को उसे होश आया तो अपने बारे में उन्होंने जानकारी दी।

छपरा अस्पताल में शुक्रवार को होश में आने के बाद यात्री ने बताया कि वह नई दिल्ली से उत्तर प्रदेश के बस्ती आ रहा था, लेकिन कानपुर में नशीला चाय पिला कर नशा खुरानी गिरोह के सदस्यों ने 23 हजार रुपये तथा एक मोबाइल लूट लिया। नशीला चाय पीने के कारण वह अचेत हो गया और जब होश आया, वह खुद को छपरा जंक्शन पर पाया.

नशाखुरानी गिरोह के शिकार यात्री उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के नौगढ़ थाना क्षेत्र के पांडेय डीहवा गांव निवासी उजागर पांडेय के पुत्र कृष्णा पांडेय बताया जाता है। यात्री ने बताया कि वह ट्रक चालक का कार्य करता था और घर वापस आने के लिए वैशाली सुपर फास्ट ट्रेन में सफर कर रहा था। इसी दौरान नशा खुरानी के शिकार हो गया।