प्रतिबंधों पर बोला ईरान- दादागिरी छोड़े अमेरिका, अपने मंसूबों में कभी नहीं होगा सफल

अमेरिका द्वारा कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए जाने से ईरान में हंगामा मच गया है. इन प्रतिबंधों से भड़के ईरान ने अमेरिका पर तीखा पलटवार किया है. ईरान ने कहा कि अमेरिका को अपनी दादागिरी को छोड़ देना चाहिए. बता दें कि सोमवार को अमेरिका ने ईरान पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगा दिया. हालांकि अमेरिका ने भारत समेत 8 देशों को ईरान से तेल खरीदने की छूट दी है.

इस्लामिक रिपब्लिक न्यूज एजेंसी ने ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासमी के हवाले से कहा कि अमेरिका को अपनी सर्वाधिकारवाद और दमनकारी नीतियों को छोड़ना चाहिए. उन्होंने अमेरिकी अधिकारियों के दावों को अमेरिका का ईरान के खिलाफ मनोवैज्ञानिक युद्ध करार दिया है. उन्होंने कहा कि अमेरिका आर्थिक प्रतिबंधों के जरिए ईरान को हराने में विफल रहा है. अमेरिका का मनोवैज्ञानिक युद्ध पूरी तरह फेल हो चुका है.

उन्होंने कहा कि अमेरिrका के सर्वाधिकारवाद का अंत हो चुका है और उसे दूसरे देशों के प्रति अपने व्यवहार को बदलना चाहिए. मालूम हो कि सोमवार को अमेरिका ने ईरान पर फिर से आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए हैं, जिसके तहत ईरान से तेल खरीदने और कारोबार करने वाले देशों और कंपनियों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई का प्रावधान है.

ये वही प्रतिबंध हैं, जिन्हें पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा ने तीन साल पहले हटा दिए थे. ईरान द्वारा अपने परमाणु कार्यक्रम को स्थगित करने के बाद ओबामा प्रशासन ने ये प्रतिबंध हटाए थे. इसके तहत ईरान, अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, चीन और रूस के बीच एक डील भी हुई थी.