बिहार आरा कोर्ट बम विस्फोट के आरोपी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

बिहार के चिरचित आरा कोर्ट बम विस्फोट मामले में सजयफ्ता कैदी प्रमोद सिंह की सोमवार की सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जाने के बाद कैदी प्रमोद सिंह को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जेल प्रशासन ने प्रमोद सिंह के मौत की वजह हार्ट अटैक को बताया है। वहीं प्रशासन ने धार्मिकता की निगरानी में शव के पोस्टमार्टम कराए जाने की घोषणा की है। मृतक प्रमोद सिंह सहार थाना क्षेत्र के एकवारी गांव का रहने वाला था।

2015 में एडम कोर्ट में हुआ था
23 जनवरी 2015 को आरा सिविल कोर्ट परिसर में बम ब्लास्ट हुआ था। इस घटना में एक महिला सहित ड्यूटी पर तैनात सिपाही अमित कुमार शहीद हो गए थे, जबकि एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

बिहार के चिरचित आरा कोर्ट बम विस्फोट मामले में सजयफ्ता कैदी प्रमोद सिंह की सोमवार की सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जाने के बाद कैदी प्रमोद सिंह को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जेल प्रशासन ने प्रमोद सिंह के मौत की वजह हार्ट अटैक को बताया है। वहीं प्रशासन ने धार्मिकता की निगरानी में शव के पोस्टमार्टम कराए जाने की घोषणा की है। मृतक प्रमोद सिंह सहार थाना क्षेत्र के एकवारी गांव का रहने वाला था।

2015 में एडम कोर्ट में हुआ था
23 जनवरी 2015 को आरा सिविल कोर्ट परिसर में बम ब्लास्ट हुआ था। इस घटना में एक महिला सहित ड्यूटी पर तैनात सिपाही अमित कुमार शहीद हो गए थे, जबकि एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

Please follow and like us: