निरीक्षण / 79 गंगा घाटों पर होगी छठ पूजा, एलसीटी समेत 22 तट खतरनाक

पटना.  इस बार 79 गंगा घाटों पर छठ पूजा होगी। एलसीटी घाट सहित 22 घाटों पर पूजा नहीं होगी। डीएम कुमार रवि ने बताया कि जांच के बाद एसडीओ सदर द्वारा 14 और एसडीओ पटना सिटी द्वारा 8 घाटों को खतरनाक घोषित किया गया है।

लोग खतरनाक घाटों पर नहीं जाएं इसके लिए वहां बैरिकेडिंग कराई जाएगी और साइनेज लगाया जाएगा। वहां नदी का किनारा काफी खड़ा और पानी गहरा है। कुछ घाटों के पास गंगा चैनल में स्थिर पानी है। घाटों का निर्माण जोर-शोर से चल रहा है।

रविवार को डीएम ने एसडीआरएफ की बोट से दीदारगंज घाट से काली घाट तक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने सेक्टर अधिकारियों से कहा कि समन्वय कर समय पर घाटों का निर्माण का काम 24 घंटे में पूरा कराएं। शौचालय, चापाकल, यूरिनल, नियंत्रण कक्ष, वाच टावर पर साउंड सिस्टम, चेंजिंग रूम और यात्री शेड की व्यवस्था के डिजाइन का अनुमोदन कराकर रविवार तक सभी काम पूरा करने को कहा गया है।

उन्होंने बिहार राज्य पथ विकास निगम के कार्यपालक अभियंता को दीघा पाटीपुल घाट से होते हुए बांस घाट से गंगा पाथवे के सर्विस लेन से कलेक्ट्रेट घाट तक पहुंच पथ का निर्माण कराने को कहा। उन्होंने आईटी मैनेजर को छठ महापर्व के लिए मोबाइल एप लॉन्च करने का निर्देश दिया। 8 नवंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार फिर से घाटों का निरीक्षण कर सकते हैं। इसके पहले 6 नवंबर को मुख्य सचिव घाटों का जायजा लेंगे।