भुवनेश्वर के हॉस्टल में आदिवासी लड़कियां गर्भवती, विधानसभा में हंगामा

भुवनेश्वर: ओडिशा विधानसभा में मंगलवार का दिन हंगामाखेज रहा. कांग्रेस सदस्यों ने भुवनेश्वर के एक सरकारी एससी-एसटी आवासीय विद्यालय में आदिवासी लड़कियों के गर्भवती पाए जाने को लेकर हंगामा जोरदार हंगामा किया. इस वजह से सदन की कार्यवाही 10 मिनट स्थगित रही. इस मुद्दे को उठाते हुए कांग्रेस विधायक दल के नेता नरसिंह मिश्रा ने अध्यक्ष सूर्य नारायण पात्रा से अपील की कि वह मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से घटना की निष्पक्ष जांच सुनिश्चित कराएं. मिश्रा ने कहा कि जांच पूरी होने के बाद इसकी रिपोर्ट 12 जुलाई तक सदन में पेश की जाए.

कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर इस तरह की घटना दिल्ली या मुंबई जैसे शहरों में होती तो इससे पूरे देश को झटका लगता. लड़कियों को उनके घर वापस भेज दिया गया है और अधिकारी इस मामले को दबाने की कोशिश में लगे हुए हैं. शुरुआती मेडिकल रिपोर्ट में चार लड़कियों के गर्भधारण की बात सामने आई है.

मगर आश्चर्यजनक रूप से उन चारों में से तीन लड़कियों की अन्य रिपोर्ट नकारात्मक आई हैं जिनमें वह गर्भवती साबित नहीं हुई हैं. इसलिए कांग्रेस नेता ने इस मामले की निष्पक्ष जांच की अपील की. वहीं, भाजपा विधायक दल के उपनेता विष्णु चरण सेठी ने भी मुख्यमंत्री से इस मुद्दे पर उनके जवाब की मांग की.उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य के हॉस्टलों में आदिवासी लड़कियों के यौन शोषण के कुल 117 मामले पहले ही सामने आ चुके हैं. इसके बाद अध्यक्ष पात्रा ने मंत्री से इस मुद्दे पर सदन में बयान देने को कहा.

Please follow and like us: