महामहिम को चार सूत्रीय ज्ञापन सौपने जायेगे मनीष ओझा।

विनय कुमार मिश्र गोरखपुर ब्यूरों।
महामंत्री पद प्रत्याशी व पूर्व जिला अध्यक्ष एनएसयूआई गोरखपुर  मनीष ओझा के नेतृत्व में चार सूत्री मांग पत्र लेकर महामहिम राष्ट्रपति जी से मुलाकात करने नई दिल्ली राष्ट्रपति भवन जायेगे । महामंत्री पद प्रत्याशी मनीष ओझा ने बताया कि विगत वर्ष 9 मार्च 2018 को माननीय राज्यपाल महोदय उत्तर प्रदेश को 10 सूत्री मांग पत्र हमारे नेतृत्व में जाकर राजभवन में सौंपा गया था जिसमें दो मांगे पूरी नहीं की गई थी पहला है गोरखपुर विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाया जाए ,दूसरा है गोरखपुर विश्वविद्यालय के परिसर में कोई भी सरकारी कार्यक्रम या गैर सरकारी कार्यक्रम व गोरखपुर महोत्सव को परिसर के बाहर चलाया जाए जिससे पठन-पाठन सुचारू रूप से चल सके एवं  हमारे दो नए मुद्दे भीवहैं पहला गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्रावास जैसे कबीर,नाथचंद्रावत, बुद्धा,अंबेडकर छात्रावास में विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा जबरन मेस की सुविधा के नाम पर साल भर में लगभग ₹43200 शुल्क छात्रावास में रह रहे छात्रों से वसूला जा रहा है अन्यथा छात्रवास से बाहर जाने की बात कही जा रही है दूसरा गोरखपुर विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा के नाम पर स्नातक वर्ग से ₹700 व परास्नातक के लिए ₹1000 का शुल्क छात्र-छात्राओं से लिया जा रहा है जिसको तत्काल कम करते हुए अगले वर्ष से कम शुल्क लेकर परीक्षा कराई जाए
। महामंत्री पद प्रत्याशी मनीष ओझा ने बताया कि हमने महामहिम राष्ट्रपति जी के यहां मुलाकात की अर्जी लगा दी है वहां से इसी महीने के आखिरी तक सूचना प्राप्त होने पर 4 सूत्रीय मांग पत्र हम राष्ट्रपति को सौंपने जाएंगे और मुझे पूरा विश्वास है कि महामहिम द्वारा हमारी मांगे तत्काल पूरी की जाएंगी। इस अवसर पर कुलदीप तिवारी, शिवम चौधरी, गौरव वर्मा, अंशुमान पाठक, सुंदरम राय, प्रखर पांडे, आशुतोष शुक्ला, अंकित पांडे, श्याम मिश्रा, पियूष त्रिपाठी, सुबोध पांडे, नारायण दत्त पाठक आदि लोग उपस्थित रहे।

Please follow and like us: