मुज़फ़्फ़रपुर के डीएम और एसएसपी ने किया कांवरिया पथ का निरीक्षण

मुज़फ़्फ़रपुर से बीयूरो चीफ राहुल कुमार  की रिपोर्ट

सुरक्षा के मुद्दे पर मंदिर न्यास समिति के सदस्यों के साथ भी जिला प्रशासन की टीम ने बैठक कर विचार विमर्शःकिया मुज़फ़्फ़रपुर।जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष और वरीय पुलिस अधीक्षक  मनोज कुमार ने श्रावणी मेला से संबंधित  कांवरिया पथ का निरीक्षण किया ।साथ मे  अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी कुंदन कुमार,अपर नगर आयुक्त,कार्यपालक अभियंता पीएचईडी के साथ पुलिस प्रशासन के वरीय पदाधिकारी भी उपस्थित थे। निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिया गया। श्रावणी मेला से संबंधित कावंरिया पथ का निरीक्षण के क्रम में फकुली,तुर्की ,रामदयालु, अघोरिया बाजार, आर डी एस, जिला स्कूल ,ओरिएंट क्लब सहित सभी महत्वपूर्ण पथों का निरीक्षण किया गया। श्रावणी मेला के सफल आयोजन के मद्देनजर मंदिर परिसर में एक बैठक भी आयोजित की गई।बैठक में न्यास समिति के द्वारा बताया गया कि दो साल पूर्व में जिस कावंरिया पथ का उपयोग होता था ,उसी पथ का पुनः इस्तेमाल हो। न्यास समिति के सदस्यों ने इस बात को भी रखा  कि मंदिर सेवा दल और पुलिस के बीच बेहतर समन्वय हो एवं तीसरा बिंदु कि पूर्व में डीएन स्कूल में जो भंडारा होता था उसे पुनः चालू किया जाय। न्यास समिति के उपयुक्त बिंदुओं को जिलाधिकारी द्वारा बड़ी ही गंभीरता और धर्य के साथ  सुना गया साथ ही उन्हें आश्वासन भी दिया गया कि मेले के सफल आयोजन में जिला प्रशासन हर कदम पर आपके साथ है। उन्होंने कहा कि पुलिस और मंदिर सेवा दल के बीच परस्पर समन्वय और तालमेल हर स्तर पर स्थापित होगा। पुराने कांवरिये पथ के प्रश्न पर कहा गया कि इस पर सकारात्मक रूप से विचार करते हुये शहर वासियों और श्रद्धालुओं के हीत को देखते हुए उचित फैसला लेने पर विचार किया जाएगा।

Please follow and like us: