लगी यूरिया की खेप जल्द मिलेगी किसानों को राहत।

गोरखपुर ब्यूरों। जिले भर में यूरिया की कमी से रोज किसानों को दो चार होना पड़ रहा था। किसान केन्द्रों पर यूरिया न होने का फायदा निजी दुकानदार उठा रहे थे और मनमाना दामों में बेच रहे थे। रविवार को इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी श्री अनुज सिंह ने बताया  कि रविवार को जनपद में लगी इफको की रेक से गोरखपुर जनपद को 2020 मैट्रिक टन यूरिया प्राप्त हो चुकी है  जिसे जनपद की सभी 97 क्रियाशील सहकारी समितियों, सहकारी संघो, पीसीएफ, डीसीएफ व एग्रो के बिक्री केंद्रों तथा इफको के फ्रेंचाइजी सेंटरों पर भेज दिया गया है । मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि यूरिया उर्वरक की अधिकतम खुदरा बिक्री मूल्य 299 रुपया प्रति बोरी है । किसानों को यूरिया उनकी जोत के आधार पर दिया जाएगा । यूरिया की बिक्री पीओएस मशीन से की जाएगी तथा किसानों को मशीन से निकली रसीद भी दिया जाएगा जिसपर खाद की मात्रा व बिक्री मूल्य अंकित होगा । खाद लेने के लिए किसानों को अपना आधार कार्ड साथ लेकर बिक्री केंद्रों पर जाना होगा । किसान भाइयों से अनुरोध है कि वे अपना आधार कार्ड व किसान बही साथ में लेकर बिक्री केंद्र पर जाएं  तथा 299 रुपया प्रति बोरी की दर से यूरिया खरीदें । यदि कोई सचिव या दुकानदार 299 रुपया प्रति बोरी से ज्यादा यूरिया का दाम लेता है तो किसान भाई तत्काल अपने खण्ड विकास अधिकारी / उप जिलाधिकारी अथवा ज़िला कृषि अधिकारी के मोबाइल संख्या- 9415266880 या 0551-2204232 पर अवगत करावें । मुख्य विकास अधिकारी ने सभी सचिवों व दुकानदारों  को निर्देशित किया है कि वे निर्धारित मूल्य पर ही यूरिया की बिक्री पीओएस मशीन से करें तथा किसानों को कैश मेमो जरूर दें । सभी विक्रेता अपने दुकान पर लिखित रूप में चस्पा कर दें कि आधार कार्ड व जोत बही/खतौनी लेकर आने वाले किसानों को ही यूरिया दिया जायेगा । मुख्य विकास अधिकारी ने अवगत कराया है कि निजी क्षेत्र में वितरण हेतु शीघ्र ही 02 रेक यूरिया जनपद में प्राप्त होने वाली है । मुख्य विकास अधिकारी ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों, उप जिलाधिकारियों व कृषि व सहकारिता विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कल वे अपने अधीनस्थ कर्मचारियों की देख रेख में यूरिया का वितरण कराना सुनिश्चित करें तथा स्वयं भी बिक्री केंद्रों का निरीक्षण कर यूरिया उर्वरक वितरण कार्य पर नज़र रखे ।

Please follow and like us: