विधवा-विलाप करने के बजाय मोस्ट समाज को जोड़ेंगे

श्यामलालसुलतानपुर। आईटीआई अमरेमऊ करौंदीकला में मोस्ट कल्याण संस्थान के तत्वाधान में आयोजित “सारे बंधन तोड़ो मोस्ट (बहुजन) समाज जोड़ो” की मीटिंग समरनाथ निषाद के नेतृत्व में सम्पन्न हुई। उक्त मीटिंग में पूर्व कैबिनेट मंत्री दद्दू प्रसाद ने कहा कि मोस्ट (बहुजन) समाज के  निर्माण के लिए सहयोग की भावना व भागीदारी का कदम-कदम पर ईमानदारी से पालन करना होगा, आपसी विश्वास बहाली के लिए पुनः अपनों के दुख-दर्द में भागीदार व  गाँव-गाँव चलकर अपनों के बीच अपने पन का एहसास कराना होगा।               मोस्ट कल्याण संस्थान के निदेशक शिक्षक श्यामलाल निषाद ने कहा हमारे जिन भाइयों की शिकायत है कि मोस्ट (बहुजन) समाज साथ नही जुड़ रहा है तो वे अपना स्वार्थ त्याग कर  मोस्ट (बहुजन) के साथ जुड़ जाएं और मोस्ट समाज के निर्माण में योगदान करें अन्यथा विधवा-विलाप करना बंद करे।           उक्त अवसर पर जीशान अहमद, प्रमोद कुमार वर्मा, कृपाशंकर निषाद, विकाश यादव, सन्तराम निषाद, राकेश यादव, सुरेश कुमार राणा, कप्तान यादव, सुदीप निषाद, प्रदीप निषाद, दिनेश कुमार नाविक, सन्तोष कुमार  निषाद, जगन्नाथ निषाद, शिवशंकर निषाद, महेन्द्र निषाद, घनश्याम निषाद, विनोद कुमार  रामसजीवन निषाद, रामपाल वर्मा, समरनाथ शर्मा, रणजीत, राजेन्द्र प्रसाद, समरनाथ निषाद, सत्यराम भारती, मुन्ना, सुरेश चन्द्र, राजेश प्रजापति, हरिपाल गौतम, रवीन्द्र यादव, रामनाथ, अरविंद यादव, सन्तलाल, दिनेश कुमार सोनकर, श्रीनाथ पाल, वीरेन्द्र यादव, अरविंद निषाद सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

Please follow and like us: