शहीद नगर में योग दिवस की रही धूम।

विनय कुमार मिश्र,गोरखपुर ब्यूरों। योग दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय उधोग व्यापार के तहसील प्रभारी भुवनपति निराला ने कहा की कोई भी परिवार हो, कोई भी समाज हो, कोई भी विचार धारा , मत, पंथ, सम्प्रदाय का हो, चाहे कोई भी देश हो, आपस के सभी प्रकार के राग द्वेष, मन मुटाव, असंगतता, आतंकवाद, अशांति, झगड़े मिटाने में सबसे बड़ा सहायक बन सकता है योग । ज्ञान विज्ञान, तर्क संगत, अनेक गूढ़ रहस्य भरे पड़े हैं योग की क्रियाओं में, यह कोई साधारण विषय नहीं है ! मानव मात्र के आपसी प्रेम, सौहार्द, सुरक्षा व शांति के लिए, विश्व कल्याण के लिए, सर्वश्रेष्ठ सभी को धारण व आचरण करने योग्य, युगों से चला आ रहा, ज्ञान विज्ञान संगत, अष्टांग योग वास्तव में मनुष्य समाज के सर्वांगीण विकास में सहायक व उपकारक है ।एक अन्य प्राप्त खबर के अनुसार बंधु सिंह डिग्री कॉलेज में योग दिवस के उपलक्ष में सुबह से ही क्षेत्र के लोगों को योग का प्रशिक्षण दिया गया और उन्हें योग से बीमारियों को दूर करने का उपाय बताया गया।इसी क्रम में सुबह पतंजलि योग समिति द्वारा आयोजित तहसील प्रांगण, चौरी चौरा में अन्तराष्ट्रीय योग दिवस पर योग का प्रशिक्षण दिया गया ।योग शिविर के समापन में उपस्तिथ सभी अतिथियों को आर्य समाज के संस्थापक- महर्षि दयानंद सरस्वती का चित्र एवम महर्षि दयानंद द्वारा लिखी गयी उनकी लोकप्रिय पुस्तक -सत्यार्थ प्रकाश   विश्वजीत जायसवाल द्रारा भेंट की गई । मालुम हो कि तहसील परिसर में यह योग प्रशिक्षण एक सप्ताह पूर्व शुरू किया गया था जिसका योग दिवस पर समापन किया गया।इस आयोजन में चौरी चौरा विधायक, एसडीएम चौरी चौरा, तहसीलदार, पूर्व चैयरमैन मुण्डेरा बाजार आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Please follow and like us: