♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

बिहार के पूर्व राज्यपाल पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी का निधन, पीएम मोदी ने जताया शोक

बिहार के पूर्व राज्यपाल पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी का निधन, पीएम मोदी ने जताया शोक

 

भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, पश्चिम बंगाल, बिहार और दो अन्य राज्यों के पूर्व राज्यपाल रहे पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी का आज रविवार यानी 8 जनवरी को निधन हो गया. वह बीते कई दिनों से गंभीर रूप से बीमार चल रहे थे. भाजपा के एक वरिष्ठ नेता त्रिपाठी 88 वर्ष के थे. आज रविवार की सुबह 5 बजे प्रयागराज स्थित अपने आवास पर उन्होंने अंतिम सांस ली.

अचानक बिगड़ गई तबीयत
पार्टी के एक नेता ने बताया कि अनुभवी राजनेता, जो तीन बार यूपी विधानसभा के अध्यक्ष थे, उनके हाथ में फ्रैक्चर के साथ-साथ बुढ़ापे से संबंधित बीमारियां और सांस लेने की समस्याएं थी. उन्हें आज सुबह अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन अचानक उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ गई और उनका निधन हो गया.

सांस लेने में दिक्कत से हुई मौत
जानकारी के मुताबिक, पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी बीती 8 दिसंबर को बाथरूम में फिसल गए थे, जिसकी वजह से उनके कंधे और हाथ में फ्रैक्चर आ गया था. वहीं 30 दिसंबर, 2022 को उनकी हालत ज्यादा खराब हो गई और उन्हें प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां अस्पताल में पांच दिनों तक उनका इलाज चला और फिर उन्हें छुट्टी भी मिल गई थी, लेकिन 7 जनवरी को एक बार फिर तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें सांस लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ा.

प्रधानमंत्री मोदी ने जताया दुख
प्रधानमंत्री मोदी ने पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल और प्रदेश विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष श्री केशरी नाथ त्रिपाठी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि श्री केशरी नाथ त्रिपाठी जी को उनकी सेवा और बुद्धि के लिए सम्मान दिया जाता था. वे संवैधानिक मामलों के अच्छे जानकार थे. उन्होंने यूपी में भाजपा के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और राज्य की प्रगति के लिए कड़ी मेहनत की. उनके निधन से आहत हूं. उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदनाएं. शांति.

वरिष्ठ राजनेता, भाजपा परिवार के वरिष्ठ सदस्य, प. बंगाल के पूर्व राज्यपाल आदरणीय केशरी नाथ त्रिपाठी जी का निधन अत्यंत दुःखद है।

प्रभु श्री राम दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान व शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति दें।


व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें


स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे

[responsive-slider id=1811]

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...


Related Articles

Close
Close
Website Design By BootAlpha.com +91 84482 65129