मर्चेंट नेवी में तैनात युवक की मौत, घरवालों ने सुषमा स्वराज से लगाई गुहार

मर्चेंट नेवी में काम करने वाले सुल्तान अहमद की बोस्टन में मौत हो गई है. सुल्तान अहमद गाजियाबाद के वैशाली के रहने वाले थे. मौत की खबर के परिजनों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है.

बताया जा रहा है कि अहमद वी आर मेरिटाइम सर्विस प्राइवेट लिमिटेड में बतौर एबल सी मेन वर्कर के रूप में कार्यरत थे. रविवार को कंपनी से आए दो लोगों ने परिवार को शिप पर हुए किसी हादसे में मौत हो जाने की सूचना दी. लेकिन कब और कैसे हादसे में युवक की मौत हुई इसकी ज्यादा जानकारी अभी तक परिवार को नहीं मिली हैं. परेशान परिवार ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर मदद मांगी है.

परिवार के लोगों का कहना है कि सुल्तान अहमद 28 सितंबर को काम पर गए थे. इसके बाद वह वापस लौटकर नहीं आए. अब रविवार को उनकी मौत की खबर मिली. इस खबर से परिवार सदमे में है. सुल्तान अहमद गाजियाबाद के वैशाली में अपने परिवार के साथ रहते थे. करीब एक साल पहले उन्हें नौकरी मिली थी. अहमद 28 सितंबर में ड्यूटी से वापस घर आए थे. जब दोबारा काम पर गए तो वापस नहीं लौटे.

अचानक यूं मौत की सूचना के बाद से सुल्तान अहमद का परिवार बेहद परेशान है. रविवार को कंपनी के ही दो लोगों ने सूचना दी कि सुल्तान अहमद और उसके साथ दो और भारतीयों की मौत हो गई है. अमेरिका के बोस्टन में युवक की ड्यूटी थी जहां किसी हादसे में बीते 2 तारीख को अहमद की मौत हो गई.