इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनकर लड़की ने सिपाही से की शादी, फिर ऐसे झूठ से उठा पर्दा

ias coaching , upsc coaching

इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बनकर लड़की ने सिपाही से की शादी, फिर ऐसे झूठ से उठा पर्दा

यूपी के कानपुर में एक महिला ने खुद को इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बताकर सिपाही को अपने प्रेमजाल में फंसाया. इसके बाद शादी भी कर ली. शादी में कार देने के लिए उसने सिपाही से 6 लाख से ज्यादा रुपये लिए. एक रात जब सिपाही घर आया तो देखा कि पत्नी के साथ घर में कोई और शख्स था. इस पर उसे शक हुआ तो जानकारी जुटानी शुरू की. इस दौरान जो सच सामने आया, उससे उसके होश उड़ गए.

ये कहानी है फजलगंज थाने में तैनात सिपाही की. फेसबुक पर उसकी शिवांगी नाम की लड़की से दोस्ती हुई. उसने खुद को इनकम टैक्स इंस्पेक्टर बताया था. दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई. इसी बीच उसने सिपाही से शादी करने की बात कही. इस पर वो तैयार हो गया.

सिपाही के मुताबिक, शादी से पहले लड़की ने बताया था कि उसने अभी तक बहुत ज्यादा पैसे नहीं जोड़े हैं. घरवाले चाहते हैं कि तुमको शादी में स्कॉर्पियो दें. इसलिए तुम कुछ पैसा मिलाओ तो हम दोनों मिलकर स्कॉर्पियो लें. स्कॉर्पियो रहेगी तो तुम्हारे ही पास.

‘गाड़ी बुक कर दी है, अभी वेटिंग है’

इस पर सिपाही ने सोचा कि ठीक है शादी के बाद तो गाड़ी उसको ही मिलेगी. इसलिए उसने 6 लाख 30 हजार रुपये शिवांगी को दे दिए. इसके बाद शादी की तारीख तय हो गई. मगर, शादी में स्कॉर्पियो नहीं मिली. इस पर उसने सवाल किया तो जवाब मिला कि गाड़ी बुक कर दी है. अभी वेटिंग है इसलिए नहीं मिली है. इन सब बातों के बीच दोनों शादीशुदा जिंदगी जी रहे थे.
सिपाही कानपुर में ही एक कमरा लेकर उसके साथ रहने लगा. एक दिन शिवांगी ने उससे कहा कि उसका ट्रांसफर चंडीगढ़ हो गया है. इसलिए उसे जाना होगा. उसने कहा, ‘मैं आपके पास आती रहूंगी’. सरकारी नौकरी का मामला समझकर सिपाही ने सहमत दे दी.

‘शिवांगी की पहले भी एक शादी हो चुकी है’

इसी दौरान सिपाही एक रात जब ड्यूटी से लौट आया तो देखा उसके घर में पत्नी के साथ कोई और युवक था. इस पर उसने सवाल किया तो सही जवाब नहीं दिया. इसके बाद सिपाही को कुछ शक हुआ तो उसने जानकारी जुटानी शुरू की. इस दौरान पता चला कि शिवांगी की पहले भी एक शादी हो चुकी है. उसके दो बच्चे हैं. उसने केवल ठगने के लिए उससे शादी की थी.

इसके बाद सिपाही ने नजीराबाद थाने में धोखा देकर शादी करने की एफआईआर दर्ज कराई. इस मामले में नजीराबाद इंस्पेक्टर कौशलेंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि एफआईआर के बाद मामले की जांच की गई तो पाया गया महिला इनकम टैक्स इंस्पेक्टर नहीं है. उसकी शादी भी पहले हो चुकी है. इसके बाद उसको गिरफ्तार कर लिया गया.

ias coaching , upsc coaching

Leave a Comment

error: Content is protected !!