रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने हेतु सिनेमा चौक स्थित टावर पर चल रहे अनिश्चितकालीन धरना का 38 वां दिन भी जारी हैं

ias coaching , upsc coaching

आज दिनांक 18 अक्टूबर 2023 को रोसड़ा अनुमंडल वासियों के द्वारा रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने हेतु सिनेमा चौक स्थित टावर पर चल रहे अनिश्चितकालीन धरना का 38 वां दिन भी जारी हैं रोसड़ा अनुमंडल क्षेत्र के सभी प्रखंडों से भारी संख्या में इस धरने का समर्थन करने के लिए लोग आ रहे हैं धरना की अध्यक्षता करते हुए विकास कुमार राय ने कहा रोसड़ा अनुमंडल को जिला का दर्जा देना अति आवश्यक है बिहार सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही है। रोसड़ा सदियों से पिछड़ा हुआ क्षेत्र है इसलिए यहां के स्थानीय लोकसभा व विधानसभा का सीट भी सुरक्षित है। इस अनुमंडल के लोग विकास के लिए लालायित हैं। अनुमंडल क्षेत्र क्षेत्र कि कल जनसंख्या तकरीबन 25 लाख से भी ऊपर है यहां पर छात्र-छात्राओं के लिए शिक्षा की समुचित व्यवस्था उपलब्ध नहीं है यहां के युवाओं के लिए रोजगार या क्रीडा का कोई श्रोत उपलब्ध नहीं है यहां के लोगों के उत्तम स्वास्थ्य हेतु समुचित चिकित्सा व्यवस्था का आभाव है। यहां के किसानों के लिए बेहतर कृषि संयंत्र व वैज्ञानिक तरीके से खेती का प्रशिक्षण व किसानों के लिए खरीदी बिक्री के नए बाजार की सुविधा तथा आम जनों के लिए सरल यातायात की सुविधा अन्य तरह के आयामों में लोगों को कोई व्यवस्थाएं उपलब्ध नहीं ह सरकार के द्वारा चलाए जा रहे सरकारी योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक नहीं पहुंच पा रहा है। समस्तीपुर जिले का क्षेत्रफल लगभग 300 किलोमीटर का है यहां रोसड़ा अनुमंडल के लोगों को जिला मुख्यालय पर जाने के लिए दिन भर का समय लग जाता है। वहीं प्रतिरोध सभा को संबोधित करते हुए रुमल कुमार यादव ने कहा बिहार में नए जिले का गठन होने से आम जनों को प्रशासनिक व सरकारी योजनाओं का लाभ सुगम तरीके से मिलने लगेगा। अनुमंडल वासियों को 30 वर्षों से सभी राजनीतिक दलों के द्वारा मुर्ख व बहला फुसलाकर लोगों को ठग कर वोट ले लिया, किंतु यहां के स्थानीय जन समस्या व जिला का ज्वलंत मुद्दा के विषय में किसी जनप्रतिनिधियों के द्वारा इस क्षेत्र के लिए आज तक आवाज बुलंद नहीं किया गया है। जिसके वजह से यहां की जनता 30 वर्षों से संघर्षरत है। बिहार सरकार से मैं अपील करता हूं कि जल्द से जल्द रोसड़ा अनुमंडल को जिला का दर्जा देने का कार्य करें अन्यथा आने वाले चुनाव में क्षेत्र की जनता वोट बहिष्कार व किसी भी नेताओं को क्षेत्र में घुसने नहीं दिया जाएगा। बताते चले रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने हेतु युवा नेता सह अधिवक्ता मिश्रा विश्व बारूद के नेतृत्व में 38 दिनों से रोसड़ा के हृदय स्थली टावर पर धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। लेकिन 38 दिन बीतने के पश्चात भी शासन व प्रशासन समेत स्थानीय सांसद और विधायक की नींद नहीं खुली यानी धरनार्थियों से वो लोग मिलने का जरूरत नहीं समझ सके। धरना में राघव कुमार राय, सोनू कुमार राय, शिवेश झा, प्रशांत कुमार, मनोज साहनी, अर्जुन सिंह, मुकेश कुमार महतो, अमित कुमार, अशर्फी सहनी, बबलू कुमार, राजीव सहनी, संजय महतो, कृष्णा कुमार, विवेकानंद झा, विवेक सिंह, मो. नूर आलम, मो. सरफराज, बिरजू पासवान समेत दर्जनों लोग धरना में उपस्थित थे।

ias coaching , upsc coaching

Leave a Comment

error: Content is protected !!