स्थानीय विधायक व सांसद के अकर्मण्यता के कारण अभी तक जिला की घोषणा नहीं हो पाई है:- मिश्रा विश्व बारूद

ias coaching , upsc coaching

स्थानीय विधायक व सांसद के अकर्मण्यता के कारण अभी तक जिला की घोषणा नहीं हो पाई है:- मिश्रा विश्व बारूद

 

आज दिनांक 9 नवंबर 2023 को रोसड़ा अनुमंडल वासियों के द्वारा रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने हेतु सिनेमा चौक स्थित टावर परिसर में चल रहे अनिश्चितकालीन धरना का 60 वां दिवस है यानी 2 महीने पूरे हो चुके हैं। लेकिन शासन व प्रशासन तथा स्थानीय जनप्रतिनिधि धरनार्थियों से मिलने व उनकी समस्या सुनते तक नहीं आए हैं।
धरना की अध्यक्षता कर रहे हैं वरिष्ठ नागरिक मंच के सचिव रामेश्वर पूर्व ने कहा रोसड़ा की जनता यहां के स्थानीय जनप्रतिनिधि तथा शासन व प्रशासन के उदासीन रवैया की वजह से आज तक अनुमंडल वासियों के जिला का सपना साकार नहीं हो पाया है। वहीं गुदरी व्यवसायी संघ के विनोद देव ने कहा रोसड़ा अनुमंडल वासियों की धैर्य की परीक्षा ना ले बिहार सरकार। जनता नेताओं के झूठे चुनावी वादे और उनके चेहरे को भली भांति पहचान गई है कि वह कितने विकास के लिए तथा जन समस्या के लिए तत्पर हैं। वहीं चैंबर ऑफ़ कॉमर्स के अध्यक्ष कृष्ण कुमार लखोटिया ने कहा 30 वर्षों से लंबित मांग को बिहार सरकार नजरअंदाज कर रही है जिसके वजह से इस क्षेत्र का विकास अवरुद्ध हो गया है क्षेत्र बहुत ही पिछड़ेपन शिकार हो गया है। यहां व्यवसाय के नए आयाम उपलब्ध नहीं हो रहे हैं। सरकार को इस और ध्यान आकृष्ट कर जल्द से जल्द रोसरा को जिला की घोषणा कर देनी चाहिए। वहीं वार्ड पार्षद संजीव कुमार उर्फ संजू शर्मा ने कहा स्थानीय जनप्रतिनिधि को बाहरी होने का आरोप लगाते हुए कहा रोसड़ा के स्थानीय जनप्रतिनिधि सदन में आवाज उठाना ही नहीं चाहते हैं जिसके वजह से यहां की जन समस्या माननीय मुख्यमंत्री तक नहीं पहुंच पा रही है। अनुमंडल क्षेत्र के विकास के लिए इन लोगों को जल्द से जल्द विधानसभा में प्रश्न रखना चाहिए और मुख्यमंत्री जी से मिलकर इस मामले में ध्यान आकृष्ट करने की मांग करनी चाहिए जिससे जल्द से जल्द जिला की घोषणा हो सके। वहीं नेतृत्व कर्ता युवा नेता सह अधिवक्ता मिश्रा विश्व बारूद ने कहा अगर रोसड़ा अनुमंडल को जिला का दर्जा नहीं दिया जाता है तो आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव में सभी राजनेताओं का इस क्षेत्र में बहिष्कार किया जाएगा। यहां के छात्र नौजवान व्यवसायी शिक्षाविद वरिष्ठ नागरिक सभी लोग चाहते हैं कि रोसरा को जिला का दर्जा प्राप्त हो लेकिन स्थानीय जनप्रतिनिधियों के अकर्मण्यता के कारण आज तक यह संभव होता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है हम लोग दो माह से धरना दे रहे हैं। लेकिन किसी माननीय का ध्यान इस ज्वलंत जन समस्या की ओर आकृष्ट नहीं हुआ है इससे प्रतीत होता है बिहार लोकतंत्र का ज्ञान पूरे विश्व को दिया लेकिन यहां की लोकतांत्रिक व्यवस्था समाप्त हो चुकी है। हम लोग आर पार की मकसद से बैठे हुए हैं। जब तक कोई सार्थक परिणाम नहीं निकलेगा तब तक हम लोग अनिश्चितकालीन धरना जारी रखेंगे। बताते चलें कि विगत 11 सितंबर से रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने हेतु अनुमंडल वासी दो महीने से धरना दे रहे हैं। धरना में श्याम शाह, विनय कुमार राय, प्यारे मोहन, कृष्ण कुमार लखोटिया, नीतीश नायक, विनोद देव, दिलीप दास, रासबिहारी झा, अजय महतो, डॉ. शंकर कुमार, दिनेश नायक, रमेश गामी, संजीव कुमार शर्मा, अर्जुन सिंह, कृष्ण कुमार, विकास प्रियदर्शी, सोनू नायक, रामेश्वर पूर्वे समेत दर्जनों अनुमंडल वासी उपस्थित थे।

ias coaching , upsc coaching

Leave a Comment

error: Content is protected !!