N P S समाप्त करके गारंटीड पेंशन स्कीम CCS पेंशन रूल्स लागू करने हेतु भारतीय मजदूर संघ ने दिल्ली में किया धरना / प्रदर्शन।

ias coaching , upsc coaching

N P S समाप्त करके गारंटीड पेंशन स्कीम CCS पेंशन रूल्स लागू करने हेतु भारतीय मजदूर संघ ने दिल्ली में किया धरना / प्रदर्शन।
भारतीय मजदूर संघ से सम्बद्ध सरकारी कर्मचारी राष्ट्रीय परिसंघ के अखिल भारतीय आवाहन पर सरकारी कर्मचारियों का प्रतिनिधत्व कर रहे महासंघो और सम्बद्ध यूनियनों के प्रतिनिधियों ने आज दिनांक 22 नवंबर 2023 को दिल्ली में जन्तर मंतर पर रैली और धरना आयोजित किया। जिसमें भारी संख्या में कर्मचारियों ने भाग लेकर केंद्र सरकार से नई पेंशन स्कीम समाप्त कर गारंटेड पेंशन स्कीम CCS Pension Rules 1972 लागू करने की मांग की। देश के विभिन्न भागों से रेलवे, डिफेन्स, पोस्टल, Geological Survey of India, Archaeological Survey of India, ESI, EPF, केंद्रीय कर्मचारी महासंघ व भारतीय मजदूर संघ से सम्बंधित अन्य संगठन के साथ विभिन्न प्रदेशों के स्वायत्त शासी संस्थानों के कर्मचारियों और विभिन्न राज्य सरकारों के कर्मचारी उपस्थित हुए।
सर्व विदित है कि तत्कालीन केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2004 से पुरानी पेंशन स्कीम CCS पेंशन रूल्स 1972 को समाप्त कर कंट्रीब्यूट्री पेंशन स्कीम लागू की। 22 दिसम्बर 2003 को नोटिफिकेशन एक Ordnance के आधार पर हुआ। सितम्बर 2013 में दोनों सदनों में PFRDA बिल पास हुआ और NPS ने कानूनी रूप धारण कर लिया। इस पेंशन स्कीम का भारतीय मजदूर संघ और उससे सम्बद्ध महासंघ और यूनियन लगातार विरोध करते आ रहे है क्योंकि NPS एक नान- गारंटीड बाजार पर आधारित कंट्रीब्यूट्री पेंशन स्कीम है। 1 जनवरी 2004 के पूर्व नान कंट्रीब्यूट्री गारंटी युक्त ओल्ड पेंशन स्कीम CCS पेंशन रूल्स 1972 लागू थी। जिसके अंतर्गत सेवानिवृत के समय अंतिम वेतन का 50% पेंशन के रूप में प्रदान किया जाता था और मूल्य सूचकांक के साथ जुड़ा होने से वर्ष में दो बार जनवरी और जुलाई में महंगाई भत्ता भी प्राप्त होता था।
जबकि NPS बाजार आधारित पेंशन होने के कारण इसमें न कोई न्यूनतम पेंशन की व्यवस्था है और न महंगाई भत्ता है। सामाजिक सुरक्षा के नाम पर मिलने वाली पेंशन से वंचित सभी केंद्रीय कर्मचारी, राज्य कर्मचारी भारत सरकार से मांग कर रहे है कि NPS को समाप्त करके पुनः OPS बहाल किया जाय।
इस अवसर पर सभा का आयोजन किया गया जिसमें सभी वक्ताओ ने भारत सरकार से मांग की कि नई पेंशन स्कीम को समाप्त कर गारंटेड पेंशन स्कीम लागू की जाय अर्थात CCS पेन्शन स्कीम को लागू किया जाय। वक्ताओ में मुख्य रूप से श्री हिरण्मय पांड्या (राष्ट्रीय अध्यक्ष), श्री रविन्द्र हिमते (महामंत्री), श्री बी सुरेंद्रन (संगठन मंत्री), श्री गणेश मिश्रा (सह संगठन मंत्री) श्री एम पी सिंह, श्री सुखबिंदर सिंह डिक्की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष , श्री अशोक शुक्ला (राष्ट्रीय मंत्री), श्री एम एम देशपांडे, श्री मुकेश सिंह, श्री अनन्त पाल, श्री विष्णु दत्त वर्मा जी, श्री सुरेश तिवारी, डॉ दीपेंद्र चाहर महामंत्री भारतीय मजदूर संघ दिल्ली प्रदेश, श्री अनीश मिश्रा अध्यक्ष भारतीय मजदूर संघ दिल्ली प्रदेश, श्री वीरेंद्र शर्मा आदि ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री विपिन डोगरा ने की और सभा का संचालन साधू सिंह के द्वारा किया गया।

ias coaching , upsc coaching

Leave a Comment

error: Content is protected !!