RJD सांसद अशफाक करीम पर इनकम टैक्स का छापा: नीतीश कुमार में दम है तो कह दें कि लालू-तेजस्वी के सहयोगी भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं: प्रशांत किशोर*

ias coaching , upsc coaching

*RJD सांसद अशफाक करीम पर इनकम टैक्स का छापा: नीतीश कुमार में दम है तो कह दें कि लालू-तेजस्वी के सहयोगी भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं: प्रशांत किशोर*

समस्तीपुर: जन सुराज पदयात्रा के सूत्रधार प्रशांत किशोर से जब पत्रकारों ने RJD सांसद अशफाक करीम पर इनकम टैक्स से जुड़े छापे पर सवाल पूछा तो इसपर जवाब देते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार में दम है तो ये कह दें कि लालू यादव, तेजस्वी यादव के लोग भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं और ये सिर्फ राजनीतिक प्रतिशोध है। जिसके तहत उनको परेशान किया जा रहा है, हम लोग मान लेंगे कि RJD वालों पर जो कार्रवाई हुई है वो गलत है या वो भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं। नीतीश कुमार को साफगोई से ये कहना चाहिए कि ये हमारे सहयोगी हैं और इन पर भ्रष्टाचार के जो सारे आरोप हैं, वो निराधार हैं। अगर वो ये लाइन नहीं कह रहे हैं, तो अपने आप आपको पता है वो क्या कह रहे हैं ?

*नीतीश कुमार जो आज महागठबंधन में हैं, वो विशुद्ध दो कारणों से हैं: प्रशांत किशोर*

प्रशांत किशोर ने आगे कहा कि RJD के लोग जैसे चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे हैं कि हम लोग बिल्कुल भ्रष्टाचार में लिप्त नहीं हैं, तो नीतीश कुमार को भी ये कहना चाहिए। नीतीश कुमार जो खुद नहीं कह रहे हैं, वो ये बताता है कि नीतीश कुमार अंदर से क्या सोचते हैं। प्रशांत किशोर ने कहा कि नीतीश कुमार को RJD और तेजस्वी यादव से कोई प्रेम नहीं है। नीतीश कुमार जो आज महागठबंधन में हैं, वो विशुद्ध दो कारणों से हैं। सिर्फ इसलिए उन्होंने बनाया है कि अगर 2024 में बीजेपी जीतकर आएगी, तो सबसे पहले इनको हटाएगी और अपना मुख्यमंत्री बनाएगी। इसलिए भाजपा हटाए उससे पहले महागठबंधन बना लें जिससे कि 2025 नवंबर तक मुख्यमंत्री बने रहेंगे। दूसरी सोच उनकी ये है कि 2025 के बाद उनको मुख्यमंत्री बनना नहीं है। ऐसे में हमारे बाद ऐसी सरकार रहे कि जो आज से भी बदतर हो। जिससे कि लोग कहें कि कुछ भी कहिए कि नीतीश कुमार की सरकार इससे तो ठीक थी।

*नीतीश कुमार से कोई ये कहलवा दे कि लालू यादव, तेजस्वी यादव और उनका परिवार भ्रष्टाचार में शामिल नहीं: प्रशांत किशोर*

प्रशांत किशोर ने कहा कि नीतीश कुमार से कोई ये कहलवा दे कि लालू यादव और तेजस्वी यादव के सहयोगी भ्रष्टाचार में शामिल नहीं हैं। वो ये कह ही नहीं सकते हैं। सरकार इनको परेशान कर रही है, क्योंकि ये महागठबंधन में शामिल हैं। नीतीश कुमार दूसरी बात बोल रहे हैं। अरे भाई! ये कहने से आपको कौन रोक रहा है, ED, CBI तो नहीं रोक रही है उनको।

ias coaching , upsc coaching

Leave a Comment

error: Content is protected !!